Navratri 9th Day : आज होगी मां सिद्धिदात्री की पूजा, नोट कर लें विधि, शुभ मुहूर्त, मंत्र, आरती और कथा

मां के पास 8 सिद्धियां हैं। वह कमल पर विराजमान हैं और चार हाथों में शंख, गदा, कमल का फूल और चक्र धारण किया है।

मां सिद्धिदात्री का स्वरूप

स्नान, सफेद वस्त्र, गंगाजल से स्नान, सफेद पुष्प, रोली कुमकुम और प्रसाद का विवरण।

मां सिद्धिदात्री पूजा - विधि

नवमी तिथि को बैंगनी या जामुनी रंग पहनना शुभ माना जाता है।

सिद्धगन्‍धर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि। ओम देवी सिद्धिदात्र्यै नमः।

पूजा मंत्र

नवमी तिथि के दिन कन्या पूजन करना अति उत्तम माना जाता है।

जय सिद्धिदात्री मां, तू सिद्धि की दाता। तू भक्तों की रक्षक, तू दासों की माता।

मां सिद्धिदात्री की आरती

नवरात्री की नवमी तिथि मां सिद्धिदात्री की पूजा का महत्व। जो भी इस दिन श्रद्धा और भक्ति से मां की पूजा करता है, उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।